Breaking News

जानिए क्या अंतर होता है लॉकडाउन और सील में, किन चीजों की मिलेगी छूट

कोरोना वायरस (Coronavirus) का संक्रमण लगातार बढ़ता जा रहा है. जिसको देखते हुए सरकार ने 21 दिनों का देशव्यापी लॉकडाउन लगाया था. पिछले 24 घंटों में करोना के 700 से ज्यादा मामले सामने आए हैं. ऐसे में संक्रमण के मामले बढ़कर 5734 हो गये, जबकि इससे हुई कुल मौत का आंकड़ा 193 पर पहुंच गया है. संक्रमण के खतरे को देखते हुए देश के कई हिस्सों में हॉटस्पॉट (Hotspot) की पहचान की गई है. राज्यों में ऐसी कई जगहें हैं जिन्हें पूरी तरह से सील कर दिया गया है. जिन जगहों पर सिर्फ लॉकडाउन है और जिन्हें सील किया गया है आइए जानते हैं क्या है उनमें अंतर.

ट्रंप के शुक्रिया का पीएम मोदी ने दिया जवाब, बोले- एक साथ कोरोना से जीतेंगे

लॉकडाउन में क्या कर सकते हैं
लॉकडाउन के दौरान आप जरूरी सामान लेने बाहर जा सकते हैं. फल, सब्जियां, राशन, दूध, दवाइयों के लिए बाहर जाने की छूट होती है. आपातकालीन सेवाएं भी चालू रहती हैं. लेकिन बिना किसी वजह के बाहर जानें की परमिशन नहीं होती यदि ऐसा कोई व्यक्ति मिलता है तो उस पर कानूनी कार्रवाई की जा रही है. बस, रिक्शा आदि वाहनों की आवाजाही पर रोक लगा दी जाती है.

Hanuman Jayanti 2020 : प्रियंका गांधी ने अमिताभ बच्चन की माँ को किया याद, ट्विटर पर की पोस्ट शेयर

सील में कैसी होती है स्थति
इलाके के अंदर और बाहर जाने वाले प्वाइंट्स को पूरी तरह सील कर दिया जाता है. किसी भी दुकान के खुलने की इजाजत नहीं होती है. यहां तक की मेडिकल स्टोर को भी बंद कर दिए जाते हैं. प्रशासन की तरफ से हर जरूरी सामान की होम डिलेवरी कराई जाती है. एंबुलेंस, फायर ब्रिगेड को भी एंट्री के लिए परमिशन लेनी पड़ती है. हॉटस्पॉैट इलाकों में मीडिया के घुसने पर भी पाबंदी रहती है. सिर्फ डॉक्टर को जाने की इजाजत होती है लेकिन वो भी स्पेशल पास के जरिए.

मेरे सम्मान में खड़े होने के बजाय किसी जरूरतमंद की मदद करें : पी एम मोदी

जानें क्यों नाम दिया हॉटस्पॉट
राज्यों के जिन इलाकों से कोरोना के लगातार ज्यादा मामले सामने आ रहे हैं उस जगह को हॉटस्पॉट घोषित कर दिया गया है. हॉटस्पॉट के तहत किसी मोहल्ला, सोसाइटी, अपार्टमेंट या किसी खास रोड के आसपास के इलाकों को पूरी तरह बंद कर दिया जाता है. कई जिलों में हालात ऐसे बने कि पूरे जिले को ही सील करना पड़ा. जैसे राजस्थान का भीलवाड़ा और मध्यप्रदेश का इंदौर जिला.

Check Also

Corona will be tested for Rs 2500

अब कोरोना की जाँच के लिए देने होंगे 2500 रूपये, सरकार ने तय की कोरोना टेस्टिंग फीस

कोरोना पीड़ितों (Coronavirus Mahamari) की संख्या 23 हजार को पार कर गई है. अब तक …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *