Breaking News
If you are troubled by eye strain and irritation, then follow these tips
File Photo

Eye Care Tips – आंखों में तनाव और जलन से हैं परेशान, तो फोलो करें ये टिप्स

Eye Care Tips – आंखें आपके जीवन की अमूल्य धरोहर है जो आपको जीवन  देखने में मदद करती है जिंदगी की गुणवत्ता को बनाये रखने के लिए आखें बहुमूल्य हैं लेकिन आज के दौर में कुछ लोग अपनी आंखों पर खास ध्यान नहीं दे पाते जिससे उन्हें बाद में कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ता है।

Eye Care Tips आजकल हर कोई सोशल मीडिया पर ज्यादा से ज्यादा टाइम बिता रहे हैं। ऐसे में अपना और अपने स्वास्थ्य का ख्याल रखना जरूरी है। दिन भर हम आफिस के काम में लगे रहते है और शाम को काफी थक जाते हैं ऐसे में आंखो में कई तरह की समस्या आ सकती है और तनाव पैदा हो सकता है। इन सभी के चलते आपको अपनी आॅंखों की देखभाल सही से करनी चाहिए। आइये जानते हैं कैसे आप अपने दैनिक जीवन में आखों पर बुरा प्रभाव पड़ने से रोक सकते है।

यह भी पढ़े :  Trains गुजरात के सूरत से उत्तराखंडियों को लाने के लिए ट्रेनें आज तड़के चार बजे रवाना

आपकी त्वचा और चेहरे की तरह आपकी आंखों की देखभाल करना, यह सुनिश्चित करेगा कि आप हमेशा सर्वश्रेष्ठ दिखें और महसूस करें। यह उम्र से संबंधित बीमारियों जैसे कि चकत्तेदार अधरू पतन, मोतियाबिंद, मधुमेह संबंधी रेटिनोपैथी, मोतियाबिंद आदि से रक्षा में मदद करेगा।

If you are troubled by eye strain and irritation, then follow these tips

1. उपयुक्त आहार
अगर आप अपने आंखों की अच्छी देखभाल करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको सबसे पहले उपयुक्त आहार की आवश्यकता पड़ेगी इसमें कभी भी कोई लापरवाही न करें। विटामिन सी और ई, जस्ता, ल्यूटिन, ओमेगा -3 फैटी एसिड और एंटीऑक्सिडेंट में समृद्ध आहार आपकी आंखों के लिए बहुत फायदेमंद है और आयु से संबंधित आंख की समस्याओं से बचने में मदद कर सकता है। अपने नियमित आहार में गाजर, चुकंदर, संतरे और हरी पत्तेदार सब्जियों जैसे खाद्य पदार्थों को शामिल करें। हमारे शरीर में एंटीऑक्सिडेंट मोतियाबिंद के जोखिम को कम कर सकते हैं।

यह भी पढ़े :  Online Platform उत्तराखंड में शिक्षा के लिए ऑनलाइन प्लेटफार्म पर आए शिक्षक

2. यूवी प्रकाश से संरक्षण
धूप का चश्मा रेटिना क्षति को रोकता है। वे झुर्रियों और त्वचा के कैंसर को रोकने के लिए पलक की नाजुक त्वचा की रक्षा भी करते हैं। वे आंख से संबंधित समस्याओं जैसे कि मोतियाबिंद, पिंग्यूक्लुला और चकत्तेदार अधरू पतन के जोखिम को कम करने में मदद कर सकते हैं। अच्छी गुणवत्ता वाले धूप का चश्मा पहनें जो कि यूवी किरणों को 99-100ः तक ब्लॉक करता है।

3. धूम्रपान न करें
धूम्रपान हमारे शरीर को नहीं बल्कि हमारी आंखों को भी नुकसान पंहुचाता है। तंबाकू धूम्रपान सीधे नेत्र समस्याओं सहित कई प्रतिकूल स्वास्थ्य प्रभावों से जुड़ा हुआ है। धूम्रपान करने वालों मोतियाबिंद और धब्बेदार अधरू पतन के विकास का उच्च जोखिम भी होता है। इससे ऑप्टिक तंत्रिका क्षति हो सकती है, जिससे अंधापन भी हो सकता है।

If you are troubled by eye strain and irritation, then follow these tips

 

यह भी पढ़े :  फैक्ट्री के मालिक ने दिखाई दरियादली, 2 महीने तक मजदूर को दिया खाना पीना फ्री में

4. अपनी आंखों को उचित आराम दें
आपकी आँखों को भी आपके जैसे आराम की जरूरत है। कंप्यूटर या फोन स्क्रीन पर बहुत लंबे समय तक फिल्में या वीडियो देखना इन सब से बचे। यह आपकी आंखों में तनाव पैदा कर सकता है और धुंधली दृष्टि, शुष्क आँखें, सिरदर्द आदि जैसी समस्याएं पैदा कर सकता है। इसके अलावा, आप घरेलू उपचार, जैसे आंखों पर ककड़ी के स्लाइस रखना, का उपयोग विश्राम करने की प्रक्रिया को बढ़ाने के लिए कर सकते हैं।

यह भी पढ़े : टैरिफ प्लान्स पर अब वैलिडिटी नहीं नहीं बढ़ायेंगे वोडाफोन-आइडिया और एयरटेल

5. नियमित आंखों की जांच कराएँ
आंखों की देखभाल के लिए नियमित रूप से आंखों की जांच आवश्यक है। मोतियाबिंद और ए.एम.डी जैसे गंभीर नेत्र परिस्थितियों में से अधिकांश का इलाज आसानी से और सफलतापूर्वक किया जा सकता है, अगर निदान और इलाज जल्दी से किया जाता है। यदि बिना-इलाज छोड़ा जाता है, तो इन रोगों से गंभीर दृष्टि हानि और अंधापन हो सकता है।

Check Also

Sarkari Naukri 2020 Vacancy for 418 posts in Delhi's Rajiv Gandhi Hospital

Sarkari Naukri 2020 :  दिल्ली के राजीव गांधी हॉस्पिटल में निकली 418 पदों की वैकेंसी

Sarkari Naukri 2020: कोरोनावायरस (Coronavirus)  महामारी के चलते मेडिकल स्टाफ की काफी जरूरत पड़ रही है. कोरोना …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *